Pages

देवनागरी में लिखें

Saturday, 28 September 2013

क्रमश:




कालका से शिमला जाते समय इस सुबह से मुलाकात हुई



आँख मिचौली सूर्य , चीर का पेड़
और



 ट्रेन और मैं





Shilon Resort Kufri





















Shilon Resort Kufri   Shilon Bagh  से दिखता खाड़ी-पहाड़ी
















खुश हैं मिल
हम हैं सहेलियाँ
मिलती यहीं
~~
IEI Shimla
Shilon Resort Near Kufri ....

एक तरफ दो बैठीं हैं ,उधर से
पहली गुजरात से , पंजाब से  , m p से , बिहारी मैं , देहारादून से  , बंगाल से , हरियाणा से
पूरे देश से प्रतिनिधि आते हैं .....



ये कुफ़री का peak point है ....





जहां केवल घोड़े से ही जा सकते हैं , क्यूंकि  रास्ता पतली सी गली है, जो कीचड़ से दलदल है .... पैदल नहीं जा सकते ना ....... आए हैं, तो देखना भी जरूरी था ...



गिरने के डर से आधे घंटे का सफर सावधान रहने में कट गया .... रास्ते का फोटो नहीं लेने का अफसोस बाद में हुआ .....

The India Institution of Engineers (IEI) का सितंबर का काउंसिल मीटिंग बहुत महत्वपूर्ण होता है .....क्यूँ कि इस मीटिंग में सारे काउंसिल मेम्बर मिल कर वोटिंग से प्रेसीडेंट का चुनाव करते हैं .... जिन्हें एक साल के लिए कार्य संभालना होता है
इस बार के ये हैं The India Institution of Engineers (IEI) के नए प्रेसीडेंट ......


https://www.facebook.com/photo.php?v=518501744911576&notif_t=video_processed

बहुत-बहुत बधाई
और
हार्दिक शुभकामनायें



https://www.facebook.com/photo.php?v=518516328243451&notif_t=video_processed

क्रमश:

15 comments:

  1. पहाड़ियों की सुन्दर सुबहें।

    ReplyDelete
  2. इन दृश्यों को देखकर पुरानी यादें ताजा हो गयी.

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर चित्र

    ReplyDelete
  4. सभी बहुत ही सुन्दर चित्र है पर पोस्ट में दुसरे नम्बर का चित्र बहुत ही पसंद आया

    ReplyDelete
  5. मनमोहक चित्र .... बहुत सुंदर

    ReplyDelete
  6. सुन्दर तस्वीरें और बढ़िया प्रस्तुति।।

    नई कड़ियाँ : सदाबहार अभिनेता देव आनंद

    ReplyDelete
  7. सुन्दर चित्र !
    बहुत शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  8. वाह सभी फोटो सुन्दर हैं |

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर तस्वीरें और बढ़िया प्रस्तुति।

    ReplyDelete
  10. इस पोस्ट की चर्चा, मंगलवार, दिनांक :-01/10/2013 को "हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच}" चर्चा अंक -14 पर.
    आप भी पधारें, सादर ....राजीव कुमार झा

    ReplyDelete
  11. सादर प्रणाम |
    बहुत ही सुंदर चित्र |
    सकारात्मक उर्जा से भरा लेखन |
    हार्दिक बधाईयां |ईश्वर आपको असीम आनंद ,सुख शांति और उर्जा दें |मंगलकामनाएं|
    नई पोस्ट-
    “किन्तु पहुंचना उस सीमा में………..जिसके आगे राह नही!{for students}"

    ReplyDelete
  12. सुन्दर तस्वीरें...
    :-)

    ReplyDelete

आपको कैसा लगा ... ये तो आप ही बताएगें .... !!
आपकी आलोचना की जरुरत है.... ! निसंकोच लिखिए.... !!